एपीजे स्कूल, टांडा रोड, जालंधर में राजेश्वरी पॉल कला उत्सव में छात्रों ने अपनी रचनात्मक प्रतिभा का प्रदर्शन किया

जालंधर (अरोड़ा) :- एपीजे एजुकेशन के संस्थापक-अध्यक्ष डॉ. सत्य पॉल की पत्नी राजेश्वरी पॉल की 100वीं जयंती के अवसर पर एपीजे स्कूल, टांडा रोड, जालंधर में राजेश्वरी पॉल कला उत्सव का आयोजन किया। राजेश्वरी पॉल, सुषमा पाल बरलिया (चेयरपर्सन एपीजे एजुकेशन, सह-संस्थापक और चांसलर, एपीजे सत्य यूनिवर्सिटी, चेयरपर्सन और अध्यक्ष एपीजे सत्या और स्वर्ण ग्रुप, एपीजे सत्या एजुकेशन रिसर्च फाउंडेशन) माता जी हैंl इस अवसर पर एक विशेष सभा आयोजित की गई, जिसकी शुरुआत को पुष्पांजलि अर्पित करने से हुई। जिसमें स्कूल प्रिंसिपल संगीता निस्तांद्रा, स्कूल समन्वयक दीप्ति कौशल, छात्र परिषद और शिक्षक शामिल थेl

प्रिंसिपल संगीता निस्तंद्रा ने सभा को संबोधित किया और सुषमा पॉल बर्लिया द्वारा भेजा गया एक संदेश पढ़ा। राजेश्वरी पॉल की याद में, कला के प्रति उनके प्रेम के कारण सांस्कृतिक गतिविधियों की एक श्रृंखला आयोजित की गई। छात्रों ने लोक गीत गाए और मनमोहक नृत्य प्रस्तुतियों ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस दिन का मुख्य आकर्षण कला प्रदर्शनी थी, जिसमें विद्यार्थियों द्वारा बनाई गई कलाकृतियाँ प्रदर्शित की गईं। विद्यार्थियों की रचनात्मकता, कल्पनाशीलता और कलात्मक अभिव्यक्ति ने खूब सराहना बटोरी। इस शुभ अवसर पर शारीरिक शिक्षा विभाग के यादविंदर गुप्ता को लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में आयोजित 21वीं पंजाब राज्य सीनियर और मास्टर किकबॉक्सिंग चैंपियनशिप में दूसरा पुरस्कार हासिल करने के लिए भी सम्मानित किया गया। स्कूल की समन्वयक दीप्ति कौशल ने धन्यवाद प्रस्ताव देकर और छात्रों को उनके प्रयासों के लिए बधाई देकर कार्यक्रम का समापन किया।

Check Also

सेंट सोल्जर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के छात्रों ने यूनिवर्सिटी रिजल्ट में मारी बाजी

जालंधर (अजय छाबड़ा) :- सेंट सोल्जर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के छात्रों ने यूनिवर्सिटी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *