एपीजे कॉलेज ऑफ़ फाइन आर्ट्स जालंधर की छात्रा 2024 फ्रांस में ग्राफिक डिजाइन में भारत का करेगी प्रतिनिधित्व

जालंधर (अरोड़ा) :- एपीजे कॉलेज ऑफ़ फाइन आर्ट्स सर्वदा अपने संस्थापक अध्यक्ष डॉ.सत्यपाल एवं एपीजे एजुकेशन, एपीजे सत्या और स्वर्ण ग्रुप की अध्यक्ष एवं एपीजे सत्या यूनिवर्सिटी की चांसलर सुषमा पॉल बर्लिया के निर्देशन में ललित कलाओं की संरक्षण में अग्रणी रहा है। एपीजे कॉलेज में जहां एक तरफ ललित कलाओं की समृद्ध विरासत को सहेजने का प्रयास है वहां दूसरी तरफ डिजिटल क्रांति के युग में कलाओं के अधुनातन रूप को अंगीकार करने की सफल कोशिश भी है। प्राचार्य डॉ नीरजा ढींगरा ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए बताया कि एप्लाइड आर्ट विभाग से बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स आठवें सेमेस्टर की जाह्रवी मेहता फ्रांस में होने वाले वर्ल्ड स्किल लियोन 2024 जो की 10 से 15 सितंबर को होने जा रहा है इसमें ग्राफिक डिजाइन के क्षेत्र विशेष में भारत का प्रतिनिधित्व करके कॉलेज को गौरवान्वित करेगी। अभी जाह्रवी मेहता भारत सरकार की तरफ से ग्राफिक डिजाइन में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए बेंगलुरु में 3 महीने की ट्रेनिंग कर रही है। डॉ ढींगरा ने जाह्रवी मेहता को वर्ल्ड स्किल लियोन में चयनित होने के लिए बधाई दी तथा इस प्रतियोगिता में बेहतरीन प्रदर्शन करने के लिए शुभकामनाएं भी दी।जाह्रवी मेहता को प्रेरित करने एवं मार्गदर्शन करने के लिए डॉ ढींगरा ने एप्लाइड आर्ट विभाग के अध्यक्ष अनिल गुप्ता एवं विक्रम सिंह के प्रयासों की भरपूर सराहना की।

Check Also

आईकेजी पीटीयू में उचित वित्तीय निवेश योजना पर एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया

पैसे को सही जगह निवेश करना, सही उपयोग के प्रति जागरूक रहना समय की मांग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *