के.एम.वी. भारत सरकार द्वारा तीन प्रतिष्ठित सेंटर्स ऑफ़ एक्सीलेंस से सम्मानित

केएमवीरिटेल, साइंस एजुकेशन एवं इनोवेशन लीडरशिप में उत्कृष्टता के लिए सम्मानित:प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी

जालंधर (मोहित अरोड़ा) :- महिला शिक्षा में अग्रणी भारत की विरासत एवं ऑटोनॉमस संस्था, कन्या महाविद्यालय, जालंधर ने भारत सरकार द्वारा तीन प्रतिष्ठित सेंटर्स ऑफ़ एक्सीलेंस से सम्मानित होकर एक और शानदार उपलब्धि हासिल की है. ये सम्मान शैक्षणिक उत्कृष्टता, इनोवेशन और कौशल विकास के प्रति केएमवी की प्रतिबद्धता को मान्यता देते हैं. इस पर अधिक प्रकाश डालते हुए, प्रिंसिपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने कहा कि रिटेलर्स एसोसिएशंस स्किल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा केएमवी को रिटेल में उत्कृष्टता केंद्र से सम्मानित किया गया है. यह प्रतिष्ठित मान्यता उद्योग-संबंधित कौशल को बढ़ावा देने और रिटेल के क्षेत्र में गतिशील करियर के लिए छात्राओं को तैयार करने के लिए केएमवी के समर्पण को रेखांकित करती है. रिटेल में सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस का उद्देश्य छात्राओं को हमेशा विकसित हो रहे रिटेल उद्योग में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए आवश्यक दक्षताओं से लैस करने के लिए विशेष प्रशिक्षण, अत्याधुनिक पाठ्यक्रम और व्यावहारिक अनुभव प्रदान करना है. शैक्षणिक कार्यक्रमों को इंडस्ट्री मानकों के साथ जोड़कर संस्था यह सुनिश्चित करती है कि उसके ग्रैजुएट्स नौकरी के लिए तैयार हों और उनमें टॉप रिटेल विक्रेताओं द्वारा मांगे जाने वाले कौशल हों. केएमवी को पंजाब में पहला और एकमात्र अन्वेषिका केंद्र मिलने का भी सम्मान प्राप्त है. अन्वेषिका केंद्र, इंडियन एसोसिएशन ऑफ फिज़िक्स टीचर्स की एक पहल है, जो नवीन शिक्षण विधियों को बढ़ावा देने और छात्राओं और शिक्षकों के बीच विज्ञान की गहरी समझ को बढ़ावा देने के लिए समर्पित है. अन्वेषिका केंद्र के रूप में यह एक महत्वपूर्ण सम्मान है, क्योंकि यह वैज्ञानिक जिज्ञासा को बढ़ावा देने और भविष्य के वैज्ञानिकों को तैयार करने के लिए संस्था के असाधारण समर्पण को स्वीकार करता है. यह केंद्र वैज्ञानिक अन्वेषण के लिए एक केंद्र के रूप में काम करेगा एवं रचनात्मकता, आलोचनात्मक सोच और व्यावहारिक शिक्षा को विद्यार्थियों में प्रोत्साहित करेगा. यह वर्कशॉप्स, ट्रेंनिंग सेशंस और सहयोगी प्रोजेक्टस की मेज़बानी करेगा, जिससे क्षेत्र में विज्ञान शिक्षा की गुणवत्ता में उल्लेखनीय वृद्धि होगी. केएमवी का अन्वेषिका केंद्र वैज्ञानिक विचारकों और नवप्रवर्तकों की एक नई पीढ़ी को प्रेरित करने के लिए तैयार है. कॉलेज को उत्तर-पश्चिम क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली इंस्टीट्यूशंस इन्नोवेशन काउंसिल के रूप में भी मान्यता दी गई है. यह सम्मान इनोवेशन एवं एंटरप्रेन्योरशिप की संस्कृति को बढ़ावा देने में केएमवी के असाधारण प्रयासों को उजागर करता है. केएमवी में आई.आई.सी. ने एक जीवंत पारिस्थितिकी तंत्र बनाया है जो अभिनव विचारों का बढ़ावा देने के साथ-साथ स्टार्ट-अप का समर्थन करता है, और छात्राओं एवं शिक्षकों के बीच उद्यमशीलता की भावना को प्रफुल्लित करता है. अत्याधुनिक बुनियादी ढाँचा, मार्गदर्शन और वित्तपोषण के अवसर प्रदान करके, केएमवी के आईआईसी ने कई इन्नोवेटरस को अपने विचारों को सफल उपक्रमों में बदलने के लिए सशक्त बनाया है. इसे भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के इनोवेशन सेल द्वारा 4 गोल्ड स्टार रेटिंग भी मिली है. इसके अलावा, इसे भारत सरकार के मेंटर-मेंटी कार्यक्रम में भारत के टॉप 155 संस्थानों में से एक मेंटर संस्थान के रूप में भी चुना गया है जिसमें यूनिवर्सिटीज़, इंजीनियरिंग कॉलेज और मैनेजमेंट इंस्टीट्यूशंस शामिल हैं. इसके साथ ही केएमवी आईआईसी द्वारा क्षेत्र में इनोवेशन और स्टार्टअप नीति लागू की गई है. ए.टी.एल.-आई.आई.सी. के तहत लिंकेज कार्यक्रम के.एम.वी. आई.आई.सी. तीन स्कूलों का मार्गदर्शन कर रहा है, जबकि फैकेल्टी और छात्राओं को सुविधाएं प्रदान करने के लिए स्थापित प्री-इन्क्यूबेशन सेंटर के कोऑर्डिनेटर और फैसिलिटेटर के रूप में भी काम कर रहा है. केएमवी ने शिक्षा मंत्रालय की ए. आर. आई. आई. ए. रैंकिंग में परफॉर्मर बैंड भी हासिल किया है. यह मान्यता इनोवेशन को आगे बढ़ाने और क्षेत्र के सामाजिक-आर्थिक विकास में योगदान देने वाले अग्रणी संस्थान के रूप में केएमवी की भूमिका की पुष्टि करती है. प्रो. द्विवेदी ने अंत में कहा कि यह प्रतिष्ठित पुरस्कार शिक्षा और कौशल विकास में एक अग्रणी के रूप में केएमवी की स्थिति को मजबूत करते हैं. संस्था विश्व स्तरीय शिक्षा प्रदान करने, इनोवेशन को बढ़ावा देने और छात्राओं को सफल करियर के लिए तैयार करने के लिए प्रतिबद्ध है. केएमवी की उत्कृष्टता की यात्रा जारी है क्योंकि यह शैक्षणिक और व्यावसायिक विकास में नए मानदंड स्थापित करने के साथ-साथ समाज पर महत्वपूर्ण प्रभाव डालते हुए राष्ट्र के विकास में योगदान देता है।

Check Also

DAVIET के छात्र कल के विश्व नेता बनेंगे: देवदत्त शर्मा, जनरल मैनेजर एचआर, लार्सन और टुब्रो (L&T)

जालंधर (अरोड़ा) – डेविएट के छात्र प्रेरण कार्यक्रम 2024 की शुरुआत प्रेरणादायक रही क्योंकि एलएंडटी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *