के.एम.वी. ने भारत सरकार द्वारा प्राप्त की 1.1 करोड़ रुपए की फिस्ट ग्रांट




Share


दूसरे पड़ाव में फिस्ट ग्रांट प्राप्त करने वाला पंजाब का बना पहला कालेज


जालंधर : भारत की विरासत संस्था, कन्या महाविद्यालय, आटोनामस कालेज जालंधर को साईंस के क्षेत्र में गुणवत्ता बनाए रखने के लिए भारत सरकार के साईंस एवं टैक्नोलोजी विभाग के फिस्ट प्रोग्राम के दूसरे फेका के तहत 1.1 करोड़ रुपए की ग्रांट जारी की गई है। कालेज प्राचार्या प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने अपने संबोधन में बताया कि यह ग्रांट प्राप्त करने वाला के.एम.वी. दूसरे चरण में पंजाब का पहला कालेज है। इस ग्रांट का प्रयोग कालेज में विज्ञान विषय से संबंधित विभिन्न आधारभूत संरचना को विकसित करने और टीचिंग में अनुसंधान को बढ़ावा देने के लिए किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी कालेज को फिस्ट प्रोग्राम के पहले फेका में 70 लाख की ग्रांट जारी हो चुकी है जिसका प्रयोग कालेज में विभिन्न आधारभूत संरचना जैसे नेट वर्किंग लेब, ई-लर्निंग लेब, कई रिसर्च इक्यूमैंट्स जैसे फीटीआईआर, यू वी विजीबल स्पैक्ट्रोमीटर, सफल फरनेसिस एवं एल सी आर मीटर आदि में बनाने में किया गया। डी.एस.टी. द्वारा देश भर के उन सभी कालेजों तथा विश्वविद्यालयों को अपना प्रपोकाल भेजने के लिए आमंत्रित किया गया जिन्होंने फिस्ट का प्रथम चरण सफतापूर्वक पार किया। दूसरे चरण में के.एम.वी. पंजाब भर से एकमात्र कालेज रहा जिसको फिस्ट ग्रांट के लिए चयनित किया गया। तामिलनाडू में हुई एक मीटिंग के दौरान यह चयन प्रक्रीया प्रिजैनटेशनका पर आधारित रही। विद्यालय प्राचार्या प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी द्वारा विद्यालय की प्रिजैनटेशन को पेश किया गया। इस दौरान फिकिाक्स विभाग से डा. गोपी शर्मा प्राचार्या जी के साथ रही। इस बार भी इस ग्रांट का उपयोग टीचिंग लर्निंग, व शोध कार्यों को और बढ़ाने में उपयोग किए जाने वाले इन्फ्रास्टक्चर तथा नए उपकरणों के लिए किया जाएगा। अपने इस कार्य से कन्या महाविद्यालय देश भर की अहम शोध संस्थाओं में शुमार होगा तथा विद्यार्थियों में वैज्ञानिक रुचि के प्रसार तथा प्रचार में अपना बहुमुल्य योगदान डालेगा।

 

  • About Us

    Religious and Educational Newspaper of Jalandhar which is owned by Sarv Sanjha Ruhani Mission (Regd.) Jalandhar

  • Social With Us