सामाजिक गतिविधयां

अर्ध सैनिक बलों के 6 सेक्शन जालंधर में तैनात -पुलिस कमिश्नर

दिलखुशा मार्केट, फल और सब्जी मंडी मकसूदां में सी.आर.पी.एफ. तैनात

जालन्धर (JJS):- जालंधर में कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिए जिला प्रशासन द्वारा पुलिस के साथ-साथ शहर के नाजुक स्थानों पर केंद्रीय रिजर्व पुलिस के ६ सैक्शनों को तैनात किया गया है। इस से सम्बन्धित जानकारी देते हुए पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया सी.आर.पी.एफ. को दिये नाजुक स्थानों और जरूरी स्थानों पर शहरी पुलिस के बदलवेन रूप में तैनात किया गया है। इन में से चार सैक्शनो को दिलखुशा मार्केट और फल और सब्जी मंडी मकसूदां में तैनात किया गया है जिससे यहा विश्वसनीय बनाया जा सके कि जिन लोगों को इन स्थानों पर दाखिल होने की आज्ञा है वह ही जा सकें।  उन्होने कहा कि इन दोनों स्थानों पर लोगों के प्रवेश करने पर सख्त मनाही है और अब सुरक्षा बलों द्वारा इन क्षेत्रों को सील कर दिया गया है और केवल जिन लोगों के पास के कर्फ्यू पास हैं वही आ सकते हैं। इन दोनों स्थानों पर किसी को भी बिना वजह आने की इजाजत नहीं है और अर्ध सैनिक बलों द्वारा अन अधिकारत लोगों के विरुद्ध सख्त  से सख्त कार्यवाही की जायेगी। यह दोनों स्थान लोगों तक दवाईयां और फल और सब्जियों को रिटेलरों के द्वारा पहुँचाने के लिए खोलीं गई हैं। लोग इन दोनों स्थानों पर बिना वजह पहुँच कर कर्फ़्यू के नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं। यह बहुत गंभीर मामला है  क्यूंकि जिले में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए कर्फ़्यू लगाया गया है। लोक हित को ध्यान में रखते हुए इसको किसी कीमत पर सहन नहीं किया जायेगा।

इस तरह पुलिस कमिश्नर ने बताया कि अर्ध सुरक्षा बलों की ओर से सैक्शनों को शहर के नाकों, नाजुक और अन्य स्थानों पर तैनात की जायेगी। शहर पुलिस को सी.आर.पी.एफ. को कर्फ़्यू को सख्ती से लागू करने के आदेश जारी किये गए हैं। लोगों से अपील की कि सिविल और पुलिस प्रशासन को लोक हित में लगाए गए कर्फ़्यू को सही ढंग से  लागू करने में सहयोग करें।

 

जिला प्रशासन द्वारा जरूरतमंद लोगों को 4500 राशन के पेक्ट करवाये उपलब्ध

जालन्धर (JJS):- जिला प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए जिले में लगाए गए कर्फ़्यू के दौरान समाज के कमजोर वर्गों और जरूरतमंद लोगों को राहत सामग्री पहुँचाने के लिए स्थापित किये गए सैंटर से आज 4500 सूखे राशन के पैकेट भेजे गए। इस से सम्बन्धित जानकारी देते हुए अतिरिक्त मुख्य प्रशासक जालंधर विकास अथारटी नवनीत कौर बल्ल जोकि इस बाँट केंद्र की निगरानी कर रहे हैं ने कहा कि 4500 सूखे राशन के पैक्ट जिन में 49500 किलो गेहूँ का आटा, 49500 किलो चावल, 9900 किलो दालें और 4500 किलो चीनी शामिल है लोगों को उपलब्ध करवाया गया। हर पैक्ट में 5 किलो गेहूँ का आटा, 5 किलो चावल, एक किलो चीनी, और एक किलो दाल शामिल हैं।

उन्होने बताया कि जिले में दूर दूर जरूरतमंद लोगों तक राहत सामग्री समय पर पहुँचाने को विश्वसनीय बनाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा ट्रक उपलब्ध करवाए गए हैं। पंजाब सरकार इस मुश्किल घडी में से लोगों और खास कर प्रवासी मजदूरों को हर सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए वचनबद्ध है। उन्होने दानी सज्जन जोकि इस नेक काम के द्वारा प्रवासी मजदूरों और जरूरतमंद लोगों की सहायता करने के इच्छुक हैं को न्योता दिया जिला प्रशासन द्वारा स्थापित किये गए वेयर हाऊस में सूखे राशन के रूप में योगदान दें ।







जालंधर से कोरोना वायरस को लेकर आई अच्छी खबर, सेहत विभाग ने ली राहत की सांस

जालन्धर (JJS):- कोरोना वायरस को लेकर जालंधर के लोगों के लिए अच्छी खबर है। सिविल सर्जन दफ्तर की तरफ से जितने भी अब तक संदिग्ध मरीजों के सैंपल भेजे गए थे, उनकी रिपोर्ट आ गई है। अच्छी खबर ये है कि सभी रिपोर्ट नेगिटिव आई है। जालंधर से अब तक सिर्फ पांच मरीज पॉजिटिव है, जिनमें चार सिविल अस्पताल जालंधर तो एक मरीज लुधियाना दाखिल है। बताया जा रहा है कि कोरोना पॉजिटिव मरीजों को भी शुक्रवार तक छुट्टी दिए जाने की संभावना है।

जालंधर में कर्फ़्यू का उल्लंघन करने वाले 23 लोगो पर मामला दर्ज

जालन्धर (JJS):- जालंधर कमिश्नरेट पुलिस ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए जिला प्रशासन द्वारा लगाए गए कर्फ्यू के आदेशों का उल्लंघन करने के लिए 23 लोगों को गिरफ्तार किया है। गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने कहा कि भारतीय दंड संहिता की धारा 188 और 269 के तहत मामले में कोट किशन चंद के वासु वशिष्ठ, एकता नगर के सोहन लाल, न्यू लक्ष्मीपुरा के नितिन शर्मा, संदीप के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं। रणजीत एन्क्लेव, तलवंडी सलेम के जतिंदर सिंह, कोट बादल खान के सोनू, गंडवा के पवन कुमार, अबदन के कुलविंदर, उजाला नगर के ताहिर, कोट सादिक के विजय कुमार, तेज मोहन नगर के जतिंदर कुमार, मॉडल हाउस के तरुण कुमार, अमनदीप गुरहे गांव के सिंह, चनिया के चरणजीत सहोता, भूर मंडी के आशीष, अवतार नगर के सुमित कुमार, गावहपुर के संजय कुमार, सुभाना के बिपन, टावर एन्क्लेव के उमेश खुराना, जालंधर छावनी के वेटन कुमार, प्रदीप कुमार, खुरला राजा के गिरधारी लाल। ।

उन्होंने कहा कि सभी आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उनके खिलाफ आगे की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। 232 चालान भी जारी किए हैं और 28 वाहनों को जब्त किया है। कर्फ्यू नहीं हटाए जाने तक कार्रवाई आने वाले दिनों में जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि कर्फ्यू के दौरान नियमों की धज्जियां उड़ाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। जिले में कोरोना वायरस के प्रसार की जाँच के लिए कर्फ्यू लगाया गया है और यह सभी हितधारकों के हित में था। उन्होंने कहा कि शहर में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा। पुलिस आयुक्त ने स्पष्ट रूप से कहा कि किसी को भी कानून का उल्लंघन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी और उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

शिव सेना पंजाब के चेयरमैन कपिल वर्मा ने वितरित की खाने की सामग्री

जालन्धर (JJS):- (डी.एम.ब्यूरो) करोना वायरस की मार ने लोगो को घरों में रहने के लिए मजबूर कर दिया है जिसके चलते रोज दिहाड़ी करके कमाई करकर खाने वाले लोग खाने को तरस गए है ।

जिसको देखते हुए शिव सेना पंजाब के चेयरमैन कपिल वर्मा रोज खाने की सामग्री बांट रहे है ताकि कुछ लोगो की भूख मिटाई जा सके । इसी के मद्देनजर आज फोकल प्वाइंट में झुगियो में रह रहे गरीबों को लंगर लगाकर खाने का सामान बांटा गया। इस मौके कपिल वर्मा के साथ उनकी टीम के सदस्य सोनू वडाला कॉलोनी, जॉर्डन, बबलू, आशु जंडियाला, अनिल, प्रदीप व अन्य कई सदस्य मौजूद थे।

लॉकडाउन के दौरान खेती-किसानी और संबंधित सेवाओं के लिए मिली छूट

फसलों की कटाई में भी नहीं आएगी बाधा, खाद्यान्न की उपलब्धता होगी सुनिश्चित

मोदी सरकार ने समझी किसानों की परेशानी, दिशा-निर्देशों को लेकर गृह मंत्रालय का संशोधन जारी

दिल्ली (JJS):- कोरोना वायरस से निपटने के लिए किए गए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान खेती-किसानी और इससे संबंधित सेवाओं में जुटे लोगों को परेशानी नहीं हो, इसके लिए इन्हें छूट प्रदान कर दी गई है। इससे फसलों की कटाई में भी बाधा नहीं आएगी। इस संबंध में केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण, ग्रामीण विकास तथा पंचायती राज मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृह मंत्री अमित शाह के प्रति आभार जताया है। लॉकडाउन लागू होने के बाद से केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण, ग्रामीण विकास तथा पंचायती राज मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर किसानों से जुड़े मुद्दों पर लगातार निगरानी रखे हुए हैं। इसी तारतम्य में वे इस परेशानी से भी वाकिफ हुए कि फसलों की कटाई में किसानों को दिकक्त आ सकती है, साथ ही मंडियों तक इन्हें पहुंचाने के लिए भी किसानों को सहूलियत होना चाहिए। इस संबंध में किसानों के साथ ही उनके कुछ संगठनों की मांग पर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के निर्देशानुसार, केंद्र सरकार ने गंभीरता से और सहानुभूतिपूर्वक तत्काल विचार किया, जिसके बाद किसानों एवं संबंधित लोगों के हित में व्यवहारिक निर्णय ले लिया गया है। 

केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा कोरोना वायरस से लड़ने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बारे में 24 और 25 मार्च 2020 को जारी आदेश संख्या 40-3/2020-DM-l(A) के परिप्रेक्ष्य में नेशनल एग्जीक्यूटिव कमेटी के अध्यक्ष द्वारा आपदा प्रबंधन अधिनियम के अनुच्छेद 10(2)(l) के अंतर्गत प्रदत्त शक्तियों के अनुसार दिशा-निर्देशों के सम्बंध में अब द्वितीय परिशिष्ट जारी कर दिया गया है। इस परिशिष्ट में 21 दिनों के लॉकडाउन के संबंध में आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कृषि व सम्बंधित वस्तुओं, सेवाओं और क्रियाकलापों को आवश्यक छूट देते हुए अतिरिक्त श्रेणियों में रखा गया है। इससे फसलों की कटाई में भी बाधा नहीं आएगी। इसके लिए केंद्रीय मंत्री श्री तोमर ने प्रधानमंत्री श्री मोदी व गृह मंत्री श्री शाह का आभार व्यक्त किया है। 

गृह मंत्रालय के द्वितीय परिशिष्ट के अनुसार: 1. कृषि उत्पादों की ख़रीद से संबंधित संस्थाओं व न्यूनतम समर्थन मूल्य से संबंधित कार्यों, 2. कृषि उत्पाद बाजार कमेटी व राज्य सरकारों द्वारा संचालित मंडियों, 3. उर्वरकों की दुकानों, किसानों व कृषि श्रमिकों द्वारा खेत में किए जाने वाले कार्यों, कृषि उपकरणों की उपलब्धता हेतु कस्टम हायरिंग केंद्रों (सीएचसी) और 4. उर्वरक, कीटनाशक व बीजों की निर्माण व पैकेजिंग इकाइयों, फसल कटाई व बुआई से संबंधित कृषि व बाग़वानी में काम आने वाले यंत्रों की अंतरराज्य आवाजाही को भी छूट दी गई है।  यह निर्णय कृषि से संबंधित कार्यों के, बिना किसी व्यवधान के समय पर होने के संबंध में लिए गए हैं, जिससे कि इस विकट समय में लॉकडाउन के दौरान भी देश की जनता को खाद्यान्न उपलब्ध करवाया जा सके और किसानों व आम जनता को कोई परेशानी नहीं आएं। इस आदेश के सख्ती से पालन के लिए भारत सरकार के संबंधित मंत्रालयों, विभागों, राज्यों व संघ शासित प्रदेशों के प्राधिकृत अधिकारियों को निर्देशित किया गया है।

अब एक सिंगल क्लिक पर कर्फ्यू पास करें प्राप्त: DC

जालन्धर (JJS):- निवासियों को किसी भी आपात स्थिति के लिए कर्फ्यू पास पाने की सुविधा के लिए, पंजाब सरकार ने ऑनलाइन कर्फ्यू पास सेवा शुरू की है, जहाँ से नागरिक अपने घर से ऑनलाइन कर्फ्यू पास लागू कर सकते हैं। विवरणों को विभाजित करते हुए, उपायुक्त जालंधर वरिंदर कुमार शर्मा ने कहा कि नागरिक केवल https://epasscovid19.pais.net.in/ पर लॉग इन करके पास के लिए आवेदन कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि नागरिक कर्फ्यू के दौरान बाहर निकलने के वैध कारण के साथ अपना विवरण अपलोड कर सकते हैं, जिसके बाद इसका प्रिंट जारी करने के बाद उन्हें पास जारी किया जाएगा। इससे नागरिकों को बड़ी राहत मिलेगी । जिला प्रशासन के अधिकारियों को जालंधर जिले में इन ऑनलाइन अनुरोधों के प्राधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया है। उन्होंने कहा कि सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट अमित कुमार, राहुल सिंधु, डॉ. जय इंदर सिंह, डॉ. संजीव शर्मा और डॉ. विनीत कुमार अपने अधिकार क्षेत्र के तहत अधिकारियों को नियुक्त करेंगे। इसी तरह, कार्यकारी मजिस्ट्रेट रणदीप सिंह गिल, जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक नरिंदर सिंह, जोनल लाइसेंसिंग अथॉरिटी लखवंत सिंह, जिला मंडी अधिकारी दविंदर सिंह, जीएम मिल्कफेड रूपिंदर सिंह और जिला प्रबंधक पनसुप जनक राज को अधिकार प्रदान किया जाएगा। श्री शर्मा ने कहा कि संकट की इस घड़ी में लोगों को सुविधा देने के लिए हरसंभव प्रयास किया जा रहा है कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

जिला प्रशासन ने रिटेल मेडिकल शॉप्स को खोलने का किया फैसला

जालन्धर (JJS):- दवाओं की सख्त जरूरत वाले मरीजों की जरूरतों को पूरा करने के लिए जिला प्रशासन ने इमरजेंसी मरीजों के लिए रिटेल मेडिकल शॉप्स को दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक खोलने का फैसला किया है। पारित आदेशों में, उपायुक्त जालंधर वरिंदर कुमार शर्मा ने कहा कि जिले में दवा की दुकानें उपर्युक्त बुकिंग के दौरान खुली रहेंगी।

उन्होंने कहा कि यह कर्फ्यू में ढील नहीं होगी बल्कि केवल आपातकालीन रोगियों की सुविधा के लिए एक कदम था। एक परिवार के केवल एक व्यक्ति को आपातकालीन स्थिति में दवा लेने की अनुमति दी जाएगी । उन्होंने कहा कि यह कदम मुख्य रूप से आपातकालीन स्वास्थ्य समस्याओं से निपटने में लोगों को सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से था ।

जालन्धर प्रशासन द्वारा लोगों के घरों पर दवाईओं समेत दूध, फल और सब्जियों को पहुंचाया

आने वाले दिनों में इस प्रक्रिया को और सुचारू बनाया जायेगा -डिप्टी कमिश्नर

जालन्धर (JJS):- जालन्धर निवासियों को बडी राहत देते हुए जिला प्रसाशन के आधिकारियों की तरफ से आज एक नई मिसाल कायम करते हुए लोगों के दरों तक दवाईओं समेत 93000 लीटर दूध और 1100 क्विंटल फल और सब्जिया उपलब्ध करवाई गई। डिप्टी कमिश्नर वरिन्दर कुमार शर्मा के निर्देशों पर जिला प्रशासन के आधिकारियों ने सुबह - सुबह लोगों को हर जरूरी समान उनके घरो पर पहुँचाने के लिए कार्यवाही में जुट गए। जनरल मैनेजर के नेतृत्व में मिल्कफैड के आधिकारियों ने 93000 लीटर दूध की सप्लाई की गई और यह दूध वेरका के अधिकारीत डीलरों के द्वारा बँटा गया। वर्णनयोग्य है कि वेरका की तरफ से जिला में 107000 लीटर दूध की सप्लाई की जाती है। ड्रग कट्रोल अधिकारी कमल कम्बोज के नेतृत्व वाली टीम की तरफ से बल्ड प्रेशर, शुगर और मिर्गी से सम्बन्धित एक महीने की दवाईयां गाँव हरीपुर में बाँटीं गई। सहायक कमिश्नर पुलिस बिमल कांत  ने स्वयं एक महिला द्वारा सहायता के लिए फोन करने पर उसे दवाईयां उपलब्ध करवाई गई। इस तरह जिला मंडी बोर्ड के अमले की तरफ से शहर में १४००  क्विंटल फल और सब्जियों सप्लाई की गई। मंगलवार को ११०० क्विंटल फल और सब्जियाँ जिले में सप्लाई की गई थीं।

डिप्टी कमिश्नर वरिन्दर कुमार शर्मा ने कहा कि लोगों को कोई मुश्किल पेश ना आए इस के लिए हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं।  उन्होने कहा कि जरूरी सेवाओं आसानी से लोगों की दरों पर उपल4ध  करवाने के लिए पूरी व्यवस्था की गई है।  उन्होने लोगों को कहा कि डरने की जरूरत नहीं है, इस मुश्किल घडी में समूचा जिला प्रशासन उन के साथ है।

स्वास्थ्य विभाग को सभी शकी मरीजों को सिविल अस्पताल जालंधर में तबदील करने के निर्देश: डी.सी.

जालन्धर (JJS):- डिप्टी कमिश्नर जालंधर वरिन्दर कुमार शर्मा ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिये कि कोरोना वायरस के शकी मरीजों को तुरंत सिविल अस्पताल में तबदील किया जाये जिससे कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके। मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि अब तक 21मरीज सिविल अस्पताल में दाखिल हैं और सिविल अस्पताल फिल्लौर में दाखिल ५ मरीजों को भी सिविल अस्पताल जालंधर तबदील किया जायेगा। उन्होने बताया कि सिविल अस्पताल 550 बैंडों वाला अस्पताल है जिस को आइसोलेशन वार्ड में तबदील किया गया है और यहाँ जरूरत अनुसार बुनियादी ढांचा और डॉक्टरी सुविधाएं और स्टाफ मौजूद है। एस.एम.ओ.कश्मीरी लाल और उनकी टीम की तरफ से पहले ही शकी मरीजों के इलाज में शानदार भूमिका निभाई जा रही है। मैडीकल टीमों को पहले ही घर-घर सर्वे करके शकी मरीजों की पहचान करने के लिए लगाया जा चुका है। पुलिस की तरफ से तीन शकी मरीजों के संपर्क में आए लोगों की पहचान की जा रही है। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि यह समय की जरूरत है कि कोरोना वायरस को फैलने से रोका जाये। उन्होने कहा कि इस वायरस को लोगों के सक्रिय सहयोग से और सावधानियों को अपनाने के साथ-साथ घरों में रह कर ही रोका जा सकता है।

  • About Us

    Religious and Educational Newspaper of Jalandhar which is owned by Sarv Sanjha Ruhani Mission (Regd.) Jalandhar

  • Social With Us