मां के समर्पण,बलिदान को डिप्स के विद्यार्थियों ने किया नमन

जालंधर (अरोड़ा) :- डिप्स चेन के सभी छात्रों ने अपनी माँ के समर्पण और बलिदान को श्रद्धांजलि देते हुए अपनी माँ को धन्यवाद दिया जो जन्म से लेकर जीवन के हर उतार-चढ़ाव में उनके साथ खड़ी रहीं। इस अवसर पर डिप्स चेन के सभी स्कूलों में फूल, कार्ड, पोस्टर मेकिंग गतिविधियां आयोजित की गईं। इस गतिविधि के दौरान प्री-प्राइमरी विंग से लेकर जूनियर कक्षा तक के छात्रों ने शिक्षकों की मदद से अपनी माताओं के लिए उपहार और कार्ड तैयार किए। कार्ड में उनके बच्चों ने कविताओं और नारों के माध्यम से अपनी मां के प्रति अपनी भावनाओं को व्यक्त किया और उन्हें हमेशा उनके साथ रहने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि दुनिया में एक बच्चे का अपनी मां के साथ रिश्ता बहुत प्यारा और खास होता है। शिक्षकों ने उनसे कहा कि वे हमेशा अपनी मां का सम्मान करें। सीनियर कक्षा के बच्चों ने कविताओं और गीतों के माध्यम से माँ के प्रति अपनी भावनाएँ व्यक्त कीं और उनके समर्थन और सहयोग के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। उन्होंने मां की महिमा का बहुत ही सुंदर वर्णन किया और उन्हें त्याग, प्रेम, दया और वात्सल्य की प्रतिमूर्ति बताया। उन्होंने कहा कि मां ही बिना बोले बच्चों की भावनाएं समझती है। शिक्षकों ने बच्चों को बताया कि हर साल मई के दूसरे रविवार को पूरी दुनिया में मदर्स डे मनाया जाता है। इसकी शुरुआत एक अमेरिकी महिला ने की थी और अमेरिकी संसद में कानून पारित होने के बाद हर साल इसे मनाया जाता है। डिप्स चेन के एमडी सरदार तरविंदर सिंह औरसीईओ मोनिका मंडोत्रा ने मदर्स डे के मौके पर सभी मदर्स को शुभकामनाएं देते हुए विद्यार्थियों को कहा कि मां को उनकी अहमियत का हमेशा एहसास करवाना चाहिए और हर छोटे-बड़े मौके पर उन्हें स्पेशल फील करवाना चाहिए। मां अपने बच्चे की खुशी के लिए जीवन में बहुत सारी मुश्किलों का सामना करती है इसलिए हमें हमेशा उनका कहना मानना चाहिए। मां बच्चों के लिए अपनी जिदंगी को न्यौछावर कर देती है इसलिए उनका सम्मान करना चाहिए और उन्हें जिदंगी मे हर खुशी देनी चाहिए।

Check Also

सेंट सोल्जर कॉलेज (कोएड) के छात्र छू रहे हैं बुलंदियां

जालंधर (अजय छाबड़ा) :- सेंट सोल्जर कॉलेज (कोएड) में बढ़ रही रोज़गार की संभावनो और …