भारतीय तटरक्षक बल ने जहाजों के निर्माण के लिए स्वदेशी समुद्री-वर्गीकृत एल्यूमीनियम के उत्पादन एवं आपूर्ति के उद्देश्य से निजी क्षेत्र के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

दिल्ली (ब्यूरो) :- भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) और हिंडाल्को इंडस्ट्रीज ने 10 मई, 2024 को जहाजों के निर्माण के लिए भारत के सार्वजनिक एवं निजी शिपयार्डों हेतु स्वदेशी समुद्री-वर्गीकृत एल्यूमीनियम को तैयार करने एवं आपूर्ति के उद्देश्य से नई दिल्ली में एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए। यह समझौता ज्ञापन तिमाही मूल्य निर्धारण, आपूर्ति में प्राथमिकता और विक्रय राशि पर छूट जैसे लाभ भी प्रदान करेगा।

भारतीय तटरक्षक बल का बेड़ा वर्तमान समय में उथले पानी में संचालन की क्षमता से लैस एल्यूमीनियम के ढांचे से बने 67 जहाजों का संचालन कर रहा है। भारतीय तटरक्षक बल ने तटीय सुरक्षा को और बढ़ावा देने के लिए इस तरह के कई जहाजों को शामिल करने की योजना बनाई है, जहां पर देश में ही तैयार किए गए स्वदेशी समुद्री-वर्गीकृत एल्यूमीनियम का इस्तेमाल किया जाएगा। यह समझौता ज्ञापन पर भारतीय तटरक्षक बल के वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में उप महानिदेशक (सामग्री एवं रख-रखाव) आईजी भारतीय तटरक्षक बल एच. के. शर्मा और हिंडाल्को में डाउनस्ट्रीम एल्यूमीनियम बिजनेस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नीलेश कौल ने हस्ताक्षर किए।

Check Also

भारत विकास परिषद् जालंधर समर्पण शाखा ने सेवा तथा संस्कार कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए ईसी मीटिंग का किया आ‌योजन

मीटिंग उपरांत मेडिकल कैम्प तथा पर्यावरण संरक्षण के अंतर्गत किया पौधारोपण जालंधर (अरोड़ा) :- भारत …