डिप्स श्रृंखला में मनाया गया विश्व रेडक्रास दिवस

जालंधर (अरोड़ा) :- डिप्स श्रृंखला के सभी शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थियों द्वारा विश्व रेड क्रास दिवस मनाया गया। बच्चों को रेड क्रास के कार्य, महत्व के बारे में बताया गया। बच्चों ने अपने चेहरे पर फेस पेटिंग के माध्यम से रेड क्रास का साइन बनाया। बच्चों ने टीचर्स के साथ मिलकर प्राथमिकता चिकित्सा बॉक्स तैयार किए। जिसमें उन्होंने जरूरत की सारी दवाईयां रखी और बच्चों को बताया गया कि वह जरूरत पड़ने पर इसका कैसे इस्तेमाल कर सकते है। टीचर्स ने पीपीटी के माध्यम से बच्चों को बताया कि रेड क्रास हमारी लाइफ है। इसके संस्थापक और शांति के पहले नोबल पुरस्कार विजेता जीन हेनरी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। इस संगठन से दुनियाभर से लोग जुड़े हुए है जो महामारी, प्राकृतिक आपदा और युद्ध के दौरान घायल लोगों की मदद करके उन्हें चिकित्सा प्रदान करते है। इसके साथ ही लोगों को खाने पीने और उनके रहने की व्यवस्था की जाती है। इसमें लोगों द्वारा निस्वार्थ भावना से अपनी सेवाएं दी जाती है। इस साल रेड क्रास दिवस का थीम द पर्सन नेक्सट डोर था। इसका मुख्य ऑफिस स्विट्जरलैंड जेनेवा में है। भारत में 1920 में रेड क्रास की स्थापना हुई थी और अब भारत में इसकी 1200 से भी अधिक शाखाएं उपलब्ध है। डिप्स चेन के एमडी सरदार तरविंदर सिंह और सीईओ मोनिका मंडोत्रा ने बच्चों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि बिना किसी स्वार्थ के जीवन में इस तरह की संस्थाओं के साथ जुड़ कर लोगों की मदद के लिए आगे आना चाहिए। इस तरह के कदम हमें समाज में एक बेहतर इंसान बनाने में मदद करते है। 

Check Also

आईकेजी पीटीयू में उचित वित्तीय निवेश योजना पर एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया

पैसे को सही जगह निवेश करना, सही उपयोग के प्रति जागरूक रहना समय की मांग …