एपीजे कॉलेज ऑफ फाइन आर्ट्स जालंधर बैस्ट इंस्टीट्यूट फॉर एक्सीलेंस इन हायर एजुकेशन एंड स्किल एनहैंसमेंट के सम्मान से सम्मानित

जालंधर (अरोड़ा) :- एपीजे कॉलेज ऑफ फाइन आर्ट्स जालंधर ने बुलंदियों को छूने की अपनी परंपरा को कायम रखते हुए ON, NSDC (National Skill development Corporation) राष्ट्रीय कौशल विकास निगम एवं ACER के संयुक्त सौजन्य से 6th एजुकेशन लीडरस कान्क्लेव एंड अवार्डस 2024 चंडीगढ़ द्वारा कॉलेज को समयानुसार एजुकेशन पद्धति में सकारात्मक रूपांतरण करने के लिए’बैस्ट इंस्टीट्यूट फॉर एक्सीलेंस इन हायर एजुकेशन एंड स्किल एनहैंसमेंट’ का सम्मान  हासिल किया। उच्च शिक्षा के क्षेत्र में कॉलेज द्वारा प्राप्त किया गया यह सम्मान कालेज  की उच्च शिक्षा की प्रगतिशील सोच को दर्शाता है। 

एपीजे कॉलेज ऑफ फाइन आर्ट्स जालंधर निरंतर अपने संस्थापक अध्यक्ष डॉ सत्यपाॅल जी द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों से निरंतर प्रगति पथ पर अग्रसर है। एपीजे एजुकेशन एवं एपीजे सत्याॅ एंड स्वर्ण ग्रुप की अध्यक्ष, एपीजे सत्याॅ यूनिवर्सिटी की चांसलर कर्मनिष्ठ, दूरदर्शी एवं अनुशासनप्रिय सुषमा पॉल बर्लिया भी कॉलेज के विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए उच्च शिक्षा से संबंधित कार्यक्रमों का आयोजन करने के लिए प्रेरित एवं प्रोत्साहित करती रहती हैं।प्राचार्य डॉ नीरजा ढींगरा ने इस शानदार उपलब्धि पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि हमारे कॉलेज में जहां एक तरफ अपनी समृद्ध धरोहर को सहेजने का प्रयास रहता है वहां दूसरी तरफ अधुनातन टेक्नोलॉजी से भी विद्यार्थियों को जोड़ा गया है ताकि आज की प्रतियोगिता के दौड़ में वे किसी से भी पीछे न रहे। उन्होंने कहा कि कॉलेज के विद्यार्थियों को राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर हर वह अवसर प्रदान किया जाता है जिससे उनके व्यक्तित्व का सर्वपक्षीय विकास हो सके। डॉ ढींगरा ने कहा की बुलंदियों को छूने की इस परंपरा को कायम रखते हुए हम भविष्य में भी मेहनत करते रहेंगे ताकि कॉलेज को और सम्मान भी प्राप्त हो सके।

Check Also

आईकेजी पीटीयू में उचित वित्तीय निवेश योजना पर एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया

पैसे को सही जगह निवेश करना, सही उपयोग के प्रति जागरूक रहना समय की मांग …