इनोसेंट हार्ट्स कॉलेज ऑफ़ एजुकेशन ने एक बार फिर शिक्षा में स्थापित किया एक बेंचमार्क

जालंधर (मक्कड़) :- इनोसट हार्ट्स कॉलेज ऑफ़ एजुकेशन प्रत्येक वर्ष शिक्षण कौशल के सर्वोत्तम प्रदर्शन के साथ शिक्षा में एक मानदंड स्थापित करता है जो GNDU बी.एड.सेमेस्टर – III दिसंबर 2023 परीक्षा के परिणाम में स्पष्ट रूप से परिलक्षित होता है। कॉलेज के 100% विद्यार्थी-अध्यापकों ने प्रथम श्रेणी, 91% विद्यार्थी-अध्यापकों ने डिस्टिंक्शन और  28 % विद्यार्थी-अध्यापकों ने 80% से अधिक अंक प्राप्त किये। दीक्षा मेहता, इना, सोनमदीप कौर, सोनिया, शकुन कपूर, तानिया और यशिका जैन ने 87.25% अंकों के साथ कॉलेज में पहला स्थान हासिल किया। अमृत कौर और आशिमा ने 86.25% अंकों के साथ कॉलेज में दूसरा स्थान व नितिका ने 85.75% अंकों के साथ तीसरा स्थान हासिल किया। शकुन कपूर ने अपनी सफलता का श्रेय अपने पति, माता-पिता, शिक्षकों और कॉलेज के माहौल को दिया। उन्होंने कहा, “मेरा लक्ष्य एक सफल शिक्षक बनना है। मैं प्रिंसिपल सर, मेरे शिक्षकों और मेरे माता-पिता को उनके अंतहीन समर्थन के लिए विशेष रूप से धन्यवाद देती हूँ।” आशिमा ने कहा, “दूसरा स्थान हासिल करना मेरे लिए बहुत मायने रखता है क्योंकि मैंने परीक्षा के लिए बहुत परिश्रम किया था। इसका सारा श्रेय स्वयं लेना गलत होगा क्योंकि इस तरह मैं अपने शिक्षकों और परिवार द्वारा किए गए प्रयासों को नजरअंदाज कर दूँगी। मैं बहुत भाग्यशाली हूँ कि मेरे पास मेहनती और प्रेरक शिक्षक हैं।” एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर कॉलेजेस, श्रीमती आराधना बौरी ने विद्यार्थी-अध्यापकों द्वारा की गई प्रगति की सराहना की। प्रिंसिपल डॉ. अरजिंदर सिंह ने भावी शिक्षकों को अपने शिक्षण कौशल को निखारकर पूरे मन से काम करते रहने के लिए प्रेरित किया। मैनेजमेंट के सदस्यों, प्रिंसिपल तथा फैकल्टी मेंबर्स ने सभी विद्यार्थी-अध्यापकों को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई दी। सभी भावी शिक्षक खुश थे और विजयी महसूस कर रहे थे।

Check Also

DAVIET के छात्र कल के विश्व नेता बनेंगे: देवदत्त शर्मा, जनरल मैनेजर एचआर, लार्सन और टुब्रो (L&T)

जालंधर (अरोड़ा) – डेविएट के छात्र प्रेरण कार्यक्रम 2024 की शुरुआत प्रेरणादायक रही क्योंकि एलएंडटी …