डिप्टी कमिशनर ने लोगों के लिए साफ़-सुथरा और गुणवत्ता भरपूर खाने-पीने का सामान यकीनी बनाने के लिए दिए आदेश

ज़िला स्वास्थ्य अधिकारी को खाने- पीने वाले समान की दुकानों/ संस्थानों की फूड सैंपलिंग करने को कहा

जालंधर (अरोड़ा) :- लोगों के लिए साफ़- सुथरे और गुणवत्ता भरपूर खाने- पीने वाले पदार्थ यकीनी बनाने के उदेश्य से डिप्टी कमिशनर डा. हिमांशु अग्रवाल ने आज ज़िला स्वास्थ्य अधिकारी जालंधर को ज़िले में नियमित तौर पर खाने- पीने वाले समान की दुकानों/ संस्थानों की फूड सैपलिंग करने के निर्देश दिए। डिप्टी कमिशनर ने बताया कि यह निर्देश लोगों की स्वास्थ्य संभाल के मद्देनज़र जारी किए गए है क्योंकि उनको ज़िले की कुछ दुकानों/ संस्थानों द्वारा ख़राब और कम गुणवत्ता वाली खाने- पीने वाली वस्तुओं की बिक्री सम्बन्धित शिकायतें प्राप्त हुई थी। डा. हिमांशु ने कहा कि खाने- पीने के समान की दुकानों/ संस्थानों की साफ़- सफ़ाई का विशेष ध्यान रखा जाना बेहद ज़रूरी है क्योंकि इनकी तरफ से बेचा जाने वाला समान अच्छी गुणवत्ता वाला हो क्योंकि यह विषय लोगों की स्वास्थ्य के साथ जुड़ा हुआ है। उन्होंने ज़िला स्वास्थ्य अधिकारी को आदेश दिए कि लोगों को सुरक्षित और साफ़- सुथरे खाना मुहैया करवाने के लिए इन संस्थाओं को उपयुक्त ट्रेनिंग देने का प्रबंध किया जाए, जिस में खाने- पीने वाली वस्तुओं की तैयारी, परोसने, पैकिंग दौरान सफ़ाई और गुणवत्ता बरकरार रखने के बारे में बताया जाए। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारी को इन संस्थानो को साफ़-सफ़ाई का ध्यान रखने संबंधी एडवाइजरी जारी करने को भी कहा। डिप्टी कमिशनर ने ज़िला स्वास्थ्य अधिकारी को इन संस्थानों की नियमित सैंपलिंग करने के आदेश दिए कि यदि खाने- पीने वाले चीजों की गुणवत्ता निर्धारित पैमाने से कम पाई जाती है तो उस संस्थान के ख़िलाफ़ बनती कार्यवाही करके उनके दफ़्तर में रिपोर्ट भेजना सुनिश्चित  किया जाए। 

Check Also

ਪੰਜਾਬ ਸਰਕਾਰ ਦੀ ਹਰਿਆਵਲ ਮੁਹਿੰਮ ਤਹਿਤ ਮੋਗਾ ਪੁਲਿਸ ਵੱਲੋਂ ਇੱਕੋ ਦਿਨ ਸਰਕਾਰੀ ਇਮਾਰਤਾਂ ਵਿੱਚ ਲਗਾਏ 1210 ਪੌਦੇ

ਐਸ.ਐਸ.ਪੀ. ਵਿਵੇਕ ਸ਼ੀਲ ਸੋਨੀ ਨੇ ਪੁਲਿਸ ਲਾਈਨ ਮੋਗਾ ਵਿੱਚ ਰੁੱਖ ਲਗਾ ਕੇ ਦਿੱਤਾ ਵਾਤਾਵਰਨ ਨੂੰ …